गुरू महर से सराबोर हुआ बण्डा

2018-04-15 01:45:22.0

उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर में सिख धर्म के स्थापना दिवस के मौके पर बैसाखी का त्यौहार बड़ी धूमधाम से मनाया गया।
शाहजहांपुर के गुरुद्वारा मकसूदापुर से नगर कीर्तन अजमत पर होते हुए बंडा के गुरुद्वारा पहुंचा यहां पर सिख संगत की तरफ से गतका खेल का आयोजन किया गया इस आयोजन में दूर दूर से आए हुए गुरु के सिखों ने अपने करतब दिखाये।
आपको बता दें कि बैसाखी का पर्व सिख समाज के स्थापना दिवस के रुप में मनाया जाता है सिख समाज के इतिहास में बताया जाता है कि सन 1699 में सिख समाज की स्थापना हुई थी जो कि गरीबों और मजलूमों के लिए बनाई गई फौज थी ताकि कोई भी गरीब पर अत्याचार ना कर सके इसके अलावा गेहूं की फसल की कटाई पर भी लोग खुशी जाहिर करते हैं और बैसाखी का पर्व मनाते हैं।
इस मौके पर हजारों की तादात में सिख संगत मौजूद रही तो वहीं इन सुरक्षा के मद्देनजर बंडा थाना अध्यक्ष के नेतृत्व में बंडा के मुख्य चैराहे पर भारी भरकम पुलिस फोर्स भी तैनात रही।
बंडा गुरुद्वारा साहब के जत्थेदार मैं इस त्यौहार के बारे में आमजन को अवगत भी कराया।
(शाहजहांपुर से गोल्डी कौर के साथ संदीप शर्मा की रिपोर्ट)

  Similar Posts

Share it
Top