रघुपति राघव राजाराम, रमन को सन्मति दे भगवान

1 March 2017 11:45 AM GMT

बीजेपी की सरकारें हर कदम पर मनमानी पर आमादा हैं चाहे मामला नोटबन्दी के बहाने गरीबों को मौत की नीन्द सुलाने का हो या फिर शराब बेचने का। छत्तीसगढ़ की रमन सिंह सरकार की इसी मनमानी के खिलाफ विधायक अमित जोगी गंगाजल लेकर पहुंचे विधानसभा, गर्भ गृह तक पहुंचकर छिड़ का गंगाजल। प्रांगण में भी छिड़का गंगाजल। अमित जोगी ने कहा- 'लोकतंत्र के मंदिर विधानसभा के अंदर बैठे सभी विधायक पुजारी की तरह होते हैं उनका काम जनता की आराधना करना, जनता की सेवा करना है। लेकिन इसी पवित्र स्थान में खड़े होकर सरकार स्वयं शराब बेचने का जन विरोधी निर्णय लेने जा रही है। सरकार की सोच और उसके कृत्यों ने इस पवित्र स्थान को दूषित और अपवित्र कर दिया है। इसलिए शुद्धोदक स्नानम समर्पयामि की तर्ज पर हम न सिर्फ विधानसभा प्रांगण को बल्कि सरकार की दूषित सोच पर भी यह पवित्र गंगाजल छीडककर प्रतीकात्मक रूप से उसे पवित्र करने का प्रयास कर रहे हैं। भगवान् इस सरकार को सद्बुद्धि दे और सदमार्ग दिखाये।'
- शराबबंदी के मुद्दे को लेकर जोगी सहित आरके राय सियाराम कौशिक का सदन में हंगामा। अध्यक्ष ने तीनों को निलंबित किया। विधायको ने गांधी प्रतीमा के नीचे बैठकर भजन गाया- रघुपति राघव राजाराम, रमन को सन्मति दे भगवान।

  Similar Posts

Share it
Top