चन्द रूपयों के लिए मार दिया बूढ़ी सास को

2018-02-24 13:15:05.0

बीमा क्लेम के चार लाख रुपए के लिए एक बहु ने अपनी सास को मौत के घाट उतार दिया । और उसमें साथ दिया उसके दो प्रेमियों सहित चार लोगों ने। बहु जिस पीडब्लूडी विभाग में जॉब करती थी उसी के परिसर में की थी हत्या। पुलिस ने हत्यारोपी बहु को गिरफ्तार कर लिया है। वही बहु ने अपना जुर्म कबूल करते हुए हत्या की बात कही।
पुलिस गिरफ्त खड़ी यह महिला बरेली के पीडब्लूडी विभाग में नौकरी करती है और इसी महिला पर आरोप है कि इसने अपने चार साथियो के साथ मिलकर सास कमला की हत्या करा दी । वो भी अपने ही विभाग के परिसर में। हत्या की वजह उसके पति की मौत के बाद मिलने वाला बीमा का क्लेम का पैसा था । दरहसल बरेली के थाना कोतवाली इलाके में बने पीडब्लूडी के परिसर में बंद पड़े मकान में दो दिन पहले एक महिला का कंकाल मिला था। जिसके बाद पुलिस ने महिला के कंकाल का पोस्टमार्टम कराने के बाद घटना के खुलासे में लग गई। मौके से मिले आधार कार्ड के आधार पर महिला की शिनाख्त 50 बर्षीय सुशीला के रुप में हुई जो एक साल से लापता थी और कोतवाली में ही उसकी गुमशुदी लिखी थी। पुलिस ने सुशीला की हत्या कांड की जांच की तो जो कहानी सामने आई उसे सुन सभी हैरान रह गए। पुलिस की माने तो मृतक कमला को उसके बेटे की मौत के बाद बीमा क्लेम का चार लाख रुपए मिलना था जिसको लेकर मृतक कमला और उसके बेटे की बहू सुशीला में विवाद रहता था उसी बीमा क्लेम के पैसों को लेकर बहु सुशीला ने सास की हत्या की योजना बनाई और फिर एक साल पहले सास कमला को धोखे से बुलाकर पीडब्लूडी के बंद पड़े मकान में ले गयी जहाँ पर बहु सुशीला और उसके दो प्रेमी एक भाई एक अन्य ने कमला की गला दवा कर हत्या कर दी । लाश को बही फेंक मौके से फरार हो गए।
चूंकि आरोपी बहु पीडब्लूडी में बेलदार के पद पर नौकरी करती है तो उसे विभाग में बंद पड़े मकानों की भी जानकारी थी। और विभाग के परिसर में कहाँ सुनसान रहता है यह भी पता था उसी का फायदा उठाते हुए एक साल पहले सास कलमा की हत्या को अंजाम दिया था और पुलिस के खौफ से बेखौफ हो कर आराम से नौकरी कर रह रही थी। पर अभी दो दिन पहले मिले कंकाल ने हत्या का खुलासा कर दिया। फिलहाल पुलिस ने हत्यारोपी बहु आरोपी को गिरफतार कर लिया है और उसके दो प्रेमी प्रेमी सिंह, प्रेम शंकर, एक भाई प्रमोद और एक किशन अभी फरार है जिनको पकड़ने को पुलिस लगी हुई है। वही आरोपी ने अपना जुर्म कबूल कर लिया है।
चंद पैसो के लालच में एक बहु हत्यारिन बन गयी तो सास को अपनी जान गवानी पड़ी। अब देखना यह होगा कि पुलिस बाकी हत्यारोपियों को कब तक गिरफ्तार कर पाती है।

Monu Pandey

Monu Pandey

AVN Network Contributors help bring you the latest news around you.


  Similar Posts

Share it
Top