अयोध्या मामले का हल तलाशने बरेली पहुंचे श्रीश्री

2018-03-06 13:45:56.0

अयोध्या मसले के सुलह के लिए बरेली पहुंचे श्री श्री रविशकंर को नहीं दी गई दरगाह आला हजरत में कोई तरजीह, मथुरापुर मदरसे में भी श्री श्री को घुसने नहीं दिया गया, मदरसे के गेट का नहीं खोला गया।
बरेली में आईएमसी के राष्ट्रिय अध्यक्ष मौलाना तौकीर रजा से मिलने पहुंचे श्री श्री रविशंकर को बरेली के आला हजरत मदरसे में नहीं घुसने दिया गया और गेट का ताला तक नहीं खोला गया जिसके बाद वो वहां से सीधे अलखनाथ मंदिर पहुंचे। वही उन्होंने अपने सीरिया के नाम के धमकी भरे बयान पर विवाद उठता देख कहा की उन्होंने पलटी मारते हुए कहा कि देश में अमन कायम रखने के लिए बयां दिया था। उन्होंने कहा की अयोध्या में मंदिर और मस्जिद दोनों बनने चाहिए।
याद दिलादें कि कुछ ही दिन पहले मीडिया से बात करते हुये श्री श्री ने धमकी भरे अन्दाज मे कहा था कि भारत मे सीरिया बन जायेगा।
वही मौलाना तौकीर रजा ने कहा की कुछ लोग ऐसे है जो मंदिर मस्जिद के नाम पर देश का माहौल बिगड़ना चाहते है।
मौलाना ने कहा की सोल्यूशन एक ही है की हम दोनों अपने अपने पक्षों को बैठकर बातचीत करे, उन्होने कहा की मै ये नहीं चाहता की एक का दिल तोड़कर दूसरा खुशिया मनाये जश्न मनाये। उन्होंने कहा की श्री श्री इसी काम के लिए निकले है। जब उनसे राम मंदिर बनने के बारे में पुछा गया तो मौलाना ने कहा की ये सवाल मुझसे नहीं करना चाहिए। उन्होंने कहा की जो दो से 282 तक पहुंच गए है और 382 तक भी पहुंचना चाहेंगे वो भी इस मसले का हल नहीं चाहते है।

  Similar Posts

Share it
Top