लो बीच शहर लूट की एक और कहानी

2018-03-08 09:45:08.0

बरेली में बदमाशों ने फर्जी सेल टेक्स की टीम बन कर एक सराफ को लूट लिया सर्राफ मनोज रस्तोगी सोने का सामान बेच कर जौनपुर से ट्रेन से बरेली वापस आ रहा था।
आरोप है कि रात में लगभग डेढ़ बजे कोतवाली इलाके के कृष्ण लॉन ले पास इनोवा से आये 4 बदमाशो ने मनोज रस्तोगी की बाईक को रोक लिया और उनके बेटे को बाईक से उतार कर गाड़ी में बैठा लिया और मनोज रस्तोगी के विरोध करने आप उन बदमाशो ने अपने आप को सेल टेक्स का अधिकारी बताया और मनोज रास्तोगो को भी गाड़ी में बैठा लिया और तलाशी ली मनोज रस्तोगी के विरोध करने पर बदमाशों ने मनोज रस्तोगी के सर में तमंचे की बट मारी और मनोज रस्तोगी का मुह टेप लपेट कर पूरी तरह से बन्द कर दिया।
मामला कोतवाली इलाके का है आरोप है कि बदमाशो ने मनोज रस्तोगी के पास से 4 लाख रुपए 2 मोबाईल 1 दर्जन पायजेब लूट ली बदमाश सराफ मनोज को हाथ पैर बांध कर हाइवे पर फेंक गए, मनोज में एक गार्ड से मोबाइल लेकर अपने साथ हुई घटना की जानकारी अपने परिजनों को दी।
सराफ के साथ हुई घटना के बाद से कोटवली इलाके में हड़कंप मच गया और अनं फानन में बदमाशों की तलाशी में चैकिंग सुरु कराई गई वही एसएसपी बरेली ने उक्त घटना के खुलासे के लिए थाना पुलिस क्राइम ब्रांच सर्विलांस समेत कई टीमें लगाई है और जल्द खुलासे के निर्देश दिए है।
सवाल यह है कि जब बदमाशो ने दोनो को कार मे बैठा लिया तो इनकी बाईक कहा गयी, इस बीच लावारिस बाईक को किसी ने क्यो नही देखा जबकि वहां पुलिस हर समय मोजूद रहती है, हाईवे पर गार्ड कहां से मिला, किस का गार्ड था जिसका मोबाईल इस्तेमाल किया,हाथ पैर बांधकर फेंका तो खुले कैसे , इसी तरह के बहुत से सवालो के जवाब तलाशने होगे पुलिस को।

  Similar Posts

Share it
Top