अफसरान की मिलीभगत से बालू खनन जोरों पर

22 Nov 2018 6:09 PM GMT

उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर में बालू खनन का काम जोरों पर चल रहा है, लेकिन किसी भी जिम्मेदार की हिम्मत नहीं कि रोकने की सोच भी सके।

याद दिलादें कि इससे पहले भी एवीएन न्यूज़ ने अवैध खनन को सुर्खियों मे लिया था उसके बावजूद भी किसी के कान तले जूं नहीं रेंगी और खनन माफियाओं के हौसले बुलंद होते गये।

वहीं आसपास के गांव वालों का आरोप है कि जब खनन माफियाओं को बालू निकालने के लिए मना किया जाता तो वह झगड़ा करने पर उतारू हो जाते हैं इतना ही नहीं उन्हें जान माल की धमकी भी दी जाती है।

आप जो तस्वीरें देख रहे हैं वे शाहजहांपुर के बंडा गांव की है यहां पर तालाब के बीचो बीच आप देख सकते हैं कि किस तरीके से बालू माफियाओं ने तालाब में किस कदर गड्ढे कर दिए है।

गांववालो का कहना है कि तालाब में हुए गड्ढों की वजह से पास में बनी पानी की टंकी की दीवार धंस सकती है जो बड़े हादसे को दावत तो देगी ही सरकार को भी लाखों रुपए का नुकसान झेलना पड़ सकता है।

आज एवीएन ने जब इस बाबत लेखपाल और तहसीलदार को फोन पर बात की तो उन्होंने यह कहकर पल्ला झाड़ दिया कि हमने थाना बंडा को लिखित सूचना दे दी है और खनन अधिकारियों को भी इसकी जानकारी दे दी गई है।

बंडा एसओ ने बताया कि लिखित शिकायती पत्र मिल चुका है और उन्होंने एक बालू से भरी डनलप को कब्जे में लेकर दाखिल कर लिया है।

ब्योरो रिपोर्ट शाहजहांपुर

  Similar Posts

Share it
Top