मैं हर एक जांच को तैयार हूं आरोप झूठे हैं :रोशन लाल वर्मा

2018-05-10 03:01:18.0

मैं हर एक जांच को तैयार हूं  आरोप झूठे हैं :रोशन लाल वर्मा

(संदीप शर्मा स्टेट ब्यूरो चीफ)
शाहजहांपुर कि विधानसभा तिलहर से विधायक रोशनलाल वर्मा और उसके बेटे मनोज वर्मा पर एक महिला ने बंधक बनाकर दुराचार का आरोप लगाया है इसी को लेकर महिला 7 मई से धरने पर भी बैठी है और दोनों की गिरफ्तारी की मांग कर रही है तो वही विधायक रोशन लाल वर्मा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस बुलाकर कहा कि मेरे ऊपर लगाए गए सारे आरोप झूठे हैं इससे पहले भी मामले में फाइनल रिपोर्ट लग चुकी है यह सब समाजवादी पार्टी के लोग उस की छवि धूमिल करने के लिए कर रहे हैं दरअसल पूरा मामला विधायक के बेटे मनोज वर्मा से जुड़ा हुआ है 2011 में एक महिला ने 8 दिन तक बंधक बनाकर दुराचार करने का आरोप लगाते हुए मुकदमा दर्ज कराया था उस मामले की निगोही पुलिस ने तब विवेचना की और चार्जसीट लगा दी थी इसके बाद यह मामला सीबीसीआईडी को ट्रांसफर कर दिया गया सीबीसीआईडी में केस में फाइनल रिपोर्ट लगा दी 7 मई को फिर से महिला कलेक्ट्रेट में धरने पर बैठ गई और विधायक के बेटे की गिरफ्तारी की मांग करने लगी साथ ही चेतावनी भी दी कि अगर इनकी गिरफ्तारी नहीं हुई तो 11 मई को आत्मदाह कर लेगी हम आपको बताते हैं क्या है पूरा मामला( सूत्रों से मिली पुख्ता जानकारी के अनुसार) रोशन लाल वर्मा के बेटे विनोद का महिला से प्रेम संबंध था विधायक के अनुसार बेटा विनोद के दो बच्चे थे जब उन्हें पता लगा कि विनोद को संपत्ति हड़पने के मकसद से महिला ने अपने प्रेम जाल में फंसा लिया है तो उन्होंने बेटे को समझाया वह नहीं माना तो उन्होंने विनोद को चल अचल संपत्ति से बेदखल कर दिया लोगों का कहना है कि विनोद और महिला ने शादी कर ली बाद में दोनों निगोही में ही कहीं किराए पर रहते रहे 2011 में महिला ने विधायक रोशनलाल वर्मा और उनके बेटे मनोज पर मुकदमा लिखा दिया आरोप लगाया कि दोनों ने मिलकर उसे 8 दिन तक बंधक बना रखा और दुराचार किया मामला तूल पकड़ा पुलिस ने चार्जशीट लगा दी रोशनलाल ने शासन से मामले की विवेचना सीबीसीआईडी को दिला दी सीबीसीआईडी ने इस पूरे प्रकरण में फाइनल रिपोर्ट लगा दी तो वही रोशन लाल वर्मा ने सफाई देते हुए कहा कि यह सब मुझे फंसाने के लिए किया जा रहा है उसने प्रेस कॉन्फ्रेंस बुलाकर कहा कि यह सब मेरे विरोधियों की चाल है जो कई वर्षों से मेरे ऊपर आरोप लगाने पर तुले हुए हैं लेकिन मैं हर जांच को तैयार हूं बेकसूर हूं जब महिला को पता चला कि विधायक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर रहा है तो महिला भी वहां पहुंच गई लेकिन तब तक पुलिस को पता चल गया पुलिस ने महिला को उठाकर ले जाने की कोशिश की लेकिन तब तक मीडिया कर्मी वहां पर पहुंच गया और पुलिस ने महिला को छोड़ दिया महिला वही सड़क पर ही धरने पर बैठ गई और गिरफ्तारी की मांग करने लगी
(शाहजहांपुर से संदीप शर्मा की खास रिपोर्ट)

  Similar Posts

Share it
Top