एक हफ्ते में चार ज़िन्दगियां लील ली, यूपी की खाओ खिलाओ नीति ने

2018-04-28 13:13:52.0

एक हफ्ते में चार ज़िन्दगियां लील ली, यूपी की खाओ खिलाओ नीति ने

(रिपोर्ट संदीप शर्मा)

उत्तर प्रदेश का जिला शाहजहांपुर जो कि शहीदों की नगरी के नाम से जाना जाता है लेकिन जिस तरीके से इस जिले में हादसे हो रहे हैं उससे तो साफ जाहिर होता है कि इस जिले को ना जाने किसकी नजर लग गई है इस जिले के थाना क्षेत्र बंडा में 1 सप्ताह में चार लोगों की सड़क हादसे में मौत हो चुकी है लेकिन किसी भी अधिकारी के कान पर जूं तक नहीं रेंग रही जबकि यह सब हादसे पुवायां से बंडा मार्ग पर हुए हैं यहां पर मार्ग निर्माण कार्य कर रहे ठेकेदार की लापरवाही से हुआ है क्योंकि यहां पर रोड से उड़ रही धूल और रोड पर पड़े पत्थर हादसों का कारण बन रहे हैं लेकिन कोई भी अधिकारी इस तरफ ध्यान नहीं दे रहा जबकि जिस ठेकेदार ने टेंडर लिया है उसका दायित्व बन्ना बनता है की रोड पर पानी का छिड़काव किया जाए ताकि रोड से धूल ना पूरे और हादसों पर अंकुश लग सके लेकिन ऐसा कुछ नहीं हो रहा इसी का नतीजा यह निकला कि आज फिर है एक को अपनी जान गवानी पड़ी और दूसरा अभी भी बरेली के एक निजी अस्पताल में मौत से जूझ रहा है परिजनों ने बताया कि बृजेश के घर के पड़ोस में दावत चल रही थी कुछ सामान कम पढ़ा तो बृजेश और उसका साथी सूरज आलमपुर पिपरिया से बंडा के लिए सामान खरीदने के लिए निकला था लेकिन उसे क्या पता था कि रास्ते में उसे उसकी मौत बुला रही है परिजनों का कहना है कि जब वह घर से बंडा के लिए गया था तो वही रास्ते में किसी अज्ञात वाहन ने उसकी बाइक को टक्कर मार दी टक्कर इतनी जोरदार थी कि बाइक के परखच्चे तक उड़ गए और बृजेश और सूरज गंभीर रूप से घायल हो गाय सूचना पर परिजनों ने उसे बंडा अस्पताल में भर्ती कराया जहां पर उसकी मौत हो गई जबकि सूरज को बरेली रेफर कर दिया गया है जहां उसकी हालत नाजुक बनी हुई है तो वहीं लोगों का कहना है कि जिस युवक की मौत हुई है उसके दो बच्चे थे एक तो महज अभी 3 दिन का ही था जो अपने पिता का चेहरा तक नहीं देख सका बृजेश की पत्नी तो अपने पति को देख बार-बार बेहोश हो रही है फिलहाल इस घटना के बाद पूरे गांव में मातम छाया हुआ है

शाहजहांपुर से संदीप शर्मा की रिपोर्ट

  Similar Posts

Share it
Top