आखिर मौत के घाट उतार ही दी गयी साध्वी

4 Dec 2018 11:45 PM GMT

योगीराज में अपराधियों के हौसले दिनो दिन बुलन्द होते जा रहे है, महिलाओ पर ज़ुल्म की बाढ़ आ गयी है।

ताज़ा मामला शाहजहांपुर के तिलहर से सामने आया है।

जहां जूना अखाड़े की साध्वी कोयल गिरी को मौत के घाट उतार दिया गया।

कोयल गिरी को गुज़रे हफ्ते सीरियस हालत में बरेली के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया था। जहाँ आज सुबह उसकी मौत हो गई। वह पूरी तरह से जल चुकी थी।

मरने से पहले मजिस्ट्रेट ने कोयल गिरी के बयान दर्ज कर लिए थे।

वहीं कोयल की माँ की तहरीर पर तिलहर कोतवाली में 5 लोगो के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया जा चूका है।

बीते 23 नवंबर की रात संदिग्ध अवस्था में तिलहर के मोहल्ला बहादुरगंज की कोयल गिरी गंभीर रूप से झुलस गई थी। बताया जा रहा है कि उसने खुद को आग लगाली थी।

आज सुबह उसकी मौत हो गई, 24 नवंबर देर शाम कोयल गिरी की मां रामलली देवी ने तिलहर कोतवाली में मुकदमा दर्ज कराया था। साध्वी बनने से पहले उसका नाम सीमा था, और कोयल गिरी 2012 में पीस पार्टी से तिलहर विधानसभा से चुनाव भी लड़ी थी।

  Similar Posts

Share it
Top