Top

सेमीखेड़ा चीनी मिल गांवो तक कोरोना पहुंचाने की जुगत में

22 May 2020 10:45 AM GMT

सेमीखेड़ा चीनी मिल दे रहा है कोरोना को खुली दावत

बरेली की किसान सहकारी चीनी मिल्स लिमिटेड कोरोना महामारी को खुली दावत दे रही है,

मिल में ना सोशल डिस्टैंसिंग को अपनाया जा रहा है ना ही सैनेटाईज़िग का कोई इन्तेज़ाम किया जाता है,

आप जो तस्वीरें देख रहे हैं ये सेमीखेड़ा चीनी मिल यानी किसान सहकारी चीनी मिल्स लिमिटेड की हैं,

आप देख रहे हैं कि किस तरह से मिल किसानों को गन्ने की पर्ची देने के लिए भीड़ लगाये हुए है,

वैज्ञानिक और बड़े बड़े डाक्टर आपस में दूरी बनाकर रखने की सलाह दे रहे हैं लेकिन यहां तो एक के ऊपर एक चढ़ा दिख रहा है,

किसान भी मजबूर हैं सुबह से ही बुलाकर बैठा लिया गया, और पर्ची देने का काम शुरू किया गया बारह बजे के बाद,

चिलचिलाती धूप में किसान कैसे सब्र करें, पीने के पानी की व्यवस्था नहीं, छाया की व्यवस्था नहीं,

भीषण गर्मी चिलचिलाती धूप में कैसे खड़ा रह सकता है इंसान

हाईवे से गुज़रते वक्त हमारी नज़र मिल पर गई,

इतनी भीड़ वो भी एक पर एक लदे देखकर हमने जायज़ा लिया,

हमने किसानों से मिल की तरफ से सैनेटाईज़िंग किये जाने की बाबत बात की.

सैनेटाईज़िंग, सोशल डिस्टैंसिंग, पीने के पानी और धूप से बचने के इन्तेज़ाम की बाबत जीएम आलोक कुमार से बात की तो जीएम ने सैकड़ो किसानों और हमारे कैमरों को ही गलत बता दिया

हमने मौजूद किसानों से मिल की तरफ से पीने के पानी का इन्तेज़ाम पता किया, तब किसानों ने इन्तेज़ाम दिखाया,

तस्वीरों मे देखिये किसानों के लिए पीने के पानी का इन्तेजाम, ये वही तस्वीरें है जिन्हे जीएम ने बड़ी ही बेहयाई के साथ झुठला दिया

  Similar Posts

Share it
Top