पाछे पछताये का होत है, जब चिढ़िया चुग गई खेत

2 Aug 2019 8:30 PM GMT

आज यह कहावत सुन्नी उलेमा ने साकार कर दी, तीन तलाक बिल पास हो जाने के बाद विरोध करने की सूझी,

याद दिलादें कि गुजरे साल जब सरकार ने साजिश शुरू की थी तब मोलाना अरशद मदनी समेत बहुत से बड़े उलेमाओं ने जोरदार तरह से शरअई कानून में बदलाव को ना मंजूर कर दिया था,

उसी वक्त एवीएन ने बरेलवी वहाबी सुन्नी देवबन्दी उलेमाओं की राय को मनजरे आम पर लाने के कदम उठा दिये

उस वक्त बरेलवी उलेमाओं ने मुंह नहीं खोला

अब जबकि आरएसएस लॉबी अपनी चाल मे कामयाब हो गई तब सुन्नी उलेमा को विरोध की सूझी

इसी के तहत आज जुमे की नमाज के बाद बम्बई के मदनपुरा की बड़ी मस्जिद पर हंगामा करते हुए गिरफ्तारियां दीं

  Similar Posts

Share it
Top