सहायक टीचर ने महिला प्रिंसिपल को पीटा

28 July 2018 9:30 PM GMT

ना बहन ना बेटी, ना मांय सुरक्षित हैं - योगी मोदी राज मे बस गाय सुरक्षित हैं।

महिलाओ पर हर रोज अटैक होना आम बात बन गया है, कहीं आबरू पर हमले तो कहीं कत्ल।

ताजा मामला यूपी के बरेली से है। बरेली मे एक जूनियर टीचर ने शिक्षा के मन्दिर को अखाड़ा बना दिया, इसने स्कूल की महिला प्रिंसिपल को ना सिर्फ अश्लील गालियां बल्कि कुर्सी से पीटा भी।

मामला बरेली के गांव मानपुर सिकितया का है, यहां के जूनियर हाई स्कूल मे तैनात एक सहायक अध्यापक ने किसी बात को लेकर स्कूल की प्रिंसिपल को पहले तो जमकर गलियाया फिर कुर्सी फेंक कर मारदी

इसने यह करतूत स्कूल मे पढ रहे बच्चो के सामने की, अपने गुरू की यह हरकत देखकर बच्चे सहम गये।

पीड़ित शिक्षका ने मामले की शिकायत पुलिस से की पुलिस आरोपी शिक्षक के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर कार्यवाही की बात कह रही है।

गौर से देखिए शिक्षक की करतूत की शर्मनाक वीडियो जो शिक्षा के मंदिर में महिला शिक्षिका के साथ अभद्रतापूर्ण व्यवहार कर रहा है और गंदी गंदी गालिया दे रहा है।

घटना के बाद इंचार्ज अध्यापिका ने डायल 100 को सूचना दी मौके पर पुलिस मामले की छानबीन जुट गई है, घटना के समय सभी गांव वाले स्कूल पहुंच गये।

घटना के बाद मासूम दहशत में है।

यूपी को अपराध मुक्त बनाने का ढोल पीटने वाले मुख्यमंत्री के यूपी में एक तरफ जहां बरेली में एक महिला की लाश मिलने के अलावा एक महिला टीचर की सरेआम स्कूली बच्चों के सामने पिटाई की जाती है तो वही दूसरी तरफ शाहजहापुर मे गुण्डो ने फिर एक युवती की पिटाई करदी।

मामला शाहजहांपुर के थाना बंडा का है यहां पर एक युवती ने गांव के ही 3 लोगों पर मारपीट करने का आरोप लगाया है दरअसल ढका घनश्याम गांव की रहने वाली सुनीता देवी ने गुज़री 23 तारीख को बंडा थाने को शिकायत देते हुए बताया कि उसके गांव के ही कुछ युवक उनके घर में लगे पेड़ से अमरूद तोड़ रहे थे, मना करने पर उन लोगों ने युवती को मारना पीटना शुरू कर दिया।

सुनीता देवी का आरोप है कि उसने इससे पहले भी कई प्रार्थना पत्र दिए लेकिन उनका प्रार्थना पत्र ना लेकर बंडा पुलिस ने दूसरे पक्ष के प्रार्थना पत्र पर युवती के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर दिया।

फिलहाल बंडा थानाध्यक्ष ने बताया कि पूरे मामले की जांच की जा रही है।

  Similar Posts

Share it
Top