जुमलों और दावों की एक से बढ़कर एक पोल खोलता पीलीभीत

13 July 2019 6:45 PM GMT

पीलीभीत से मनदीप सिंह की रिपोर्ट

एवीएन के जन समस्या प्रोग्राम के तहत हम लगातार आपको जुमलों और दावों की जमीनी हकीकत से रूबरू कराते आ रहे हैं,

यह और बात है कि दूसरे जिलों के अफसरान कुछ हरकत में आए,

लेकिन पीलीभीत जिले के जिम्मेदारों के कान तले जूं नहीं रेग रही

आज एक और गांव में जुमलों की तस्वीरें दिखा रहे है,

यह है पीलीभीत के बिलसंडा ब्लॉक का गांव गौहनिया,

इस गांव में कितना विकास हुआ है ये आप तस्वीरों मे देख ही रहे है,

गन्दे पानी से भरी गांव की गलियां, सड़क के नाम पर खरंजा तक नहीं, प्रधान कुछ सुनता नहीं, आवास के नाम पर वहीं घास फूस की झोपड़ियां, शोच के लिए सिर्फ खेतों का सहारा

मंचों पर मोदी योगी के विकास की बाढ़ बहने से रूकने का नाम नहीं ले रही

आपको बता दें कि गुजरे 30 साल से इस गांव में ऐसी कुछ हालत हैं। किसी भी प्रधान ने काम नहीं कराया है।

यह अलग बात है कि गांव में खरंजे, नालियां बनाने के लिए बजट ठिकाने लगाया जा चुका है,

  Similar Posts

Share it
Top