काश ट्रक वाले भी आरटीओ के नियमित सेवादाता होते

8 April 2019 5:00 PM GMT

आरटीओ के सारे कानून सिर्फ ट्रकों के लिए हैं

डग्गामार जीप, टैम्पो, आटो वालों को मनमानी की खुली छूट

आज सुबह लगभग दस बजे बरेली के पोस्टमार्टम हाउस के सामने चैपुला की तरफ से आ रहे ट्रक को एआरटीओ ने बीच रास्ते में रोककर कागज मांगने शुरू कर दिये, रास्ता तंग होने की वजह से जाम लगना शुरू हो गया

तपती धूप में लग रहे जाम को देखकर एवीएन के प्रतिनिधी ने जाम को कैमरे मे कैद करना शुरू कर दिया

कैमरा चलता देखकर एआरटीओ तमंगड़ी पर, पत्रकार को हड़काने की कोशिश के साथ अभद्रता शुरू करदी

दरअसल ट्रक वाले डग्गामार जीपों, टैम्पो, ऑटो वालों की तरह आरटीओ की सेवा के नियमित दाता नही होते, इसलिए सुबह तड़के से ही आरटीओ की गाड़ी हाईवे पर दौड़ने लगती है,

टैम्पो, ऑटो, डग्गामार जीपों वाले आरटीओ के नियमित सेवा दाता है इसलिए हर तरह की छूट रहती है,

यह नजारे है बरेली आरटीओ आफिस के सामने के,

तस्वीरों में देखिये किस तरह टैम्पुओं के पीछे सवारियां लटकाकर दौड़ रहे है टैम्पो,

आपको यह भी बतादें कि पीले रंग के ऑटो टैम्पो का शहर में प्रवेश प्रतिबन्धित है

पत्रकार को हड़काने की कोशिश में एआरटीओ आरपी सिंह ने शासन में पकड़ बताते हुए कहा कि हमारी सरकार में ही हमारे काम पर उंगली उठाने की किसी को इजाजत नहीं,

आरटीओ की बात से यह तो साफ हो जाता है कि एआरटीओ ने बीजेपी ज्वायन कर रखी है

  Similar Posts

Share it
Top