तीन साल पहले चोरी हुआ बच्चा बरामद

2018-07-29 22:15:00.0

बरेली के जिला महिला अस्पताल से साढ़े 3 साल पहले चोरी हुए नवजात को पुलिस ने चाइल्ड लाइन की मदद से बरामद कर लिया है। पुलिस ने इस मामले में जिला महिला अस्पताल के वार्ड बॉय और बच्चा खरीदने वाले दम्पति के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है।

तस्वीरों में दिख रहा ये मासूम बच्चा आयुष है। साढ़े तीन साल के आयुष के मां-बाप होने के बावजूद वो जिला अस्पताल में रहने को मजबूर है। ऐसा तब है जब उसके दो दो मा बाप है। एक माँ बाप वो जिन्होंने इस प्यारे से बच्चे को जन्म दिया और एक वो जिन्होंने उसे पाला पोसा, और बच्चे की परवरिश की।

दरअसल आयुष का जन्म साढ़े 3 साल पहले जिला महिला अस्पताल में हुआ था। जन्म के बाद ही उसे अगवा कर 80 हजार रुपये में किला के खन्नू मोहल्ले में रहने वाले सोनू ने खरीद लिया था। सोनू की शादी के कई साल बीतने के बावजूद कोई जब कोई संतान नही हुई तो उसकी मुलाकात जिला अस्पताल के वार्ड बॉय से हुई। वार्ड बॉय ने भी मौका पाकर एक नवजात बच्चे को गायब कर दिया और सोनू को 80 हजार रुपये में बेच दिया। किसी तरह इसकी जानकारी चाइल्ड लाइन को हुआ तो उन्होंने किला पुलिस की मदद से रेस्क्यू कर बच्चे को बरामद कर लिया। अब पुलिस उस वार्ड बॉय की तलाश कर रही है।

बच्चे को इस वक्त बोर्न बेबी फोल्ड में रखा गया है। पुलिस बच्चे के असली मा बाप की तलाश में जुट गई हैं। अब देखना है कि पुलिस कब तक बच्चे के असली मा बाप को खोज पाती है। पुलिस की टीम ने साढ़े तीन साल पहले जिला अस्पताल में हुए बच्चो का रिकॉर्ड खगाल रही है।

Monu Pandey

Monu Pandey

Our Contributor help bring you the latest article around you


  Similar Posts

Share it
Top