दरोगा ने थाने में किया सुसाइड

2018-11-26 19:48:08.0

बरेली मे पुलिस डिपार्टमेंट में उस वक्त हड़कम्प मच गया जब शहर के बारादरी थाना परिसर में आज सब इंस्पेक्टर सत्यवीर त्यागी ने रिवाल्वर से गोली मारकर खुदकुशी कर ली।

एसआई त्यागी इन दिनों एटा के महरारा थाने में तैनात थे। थाने के क्वार्टर में खून से सनी लाश और छानबीन करती पुलिस, ये नजारा है बरेली के बारादरी थाने का जहां आज दोपहर करीब ढाई बजे एसआई सत्यवीर ने रिवॉल्वर से गोली मारकर आत्महत्या कर ली। सत्यवीर के पास बारादरी थाने में मालखाने का चार्ज था।

मीडिया से मुखातिब होते एसएसपी मुनिराज ने बताया कि दरोगा सत्यवीर सिंह 15 जनवरी 1989 में सिपाही के पद पर भर्ती होकर पुलिस सेवा में आये थे। गुजरी 2011 से अगस्त 2017 तक बरेली के बारादरी थाने में तैनात रहे।

सत्यवीर त्यागी का एसआई के पद पर प्रमोशन हो गया और एटा ट्रांसफर हो गया। आज वे खुद हेड मोहररिर को मालखाने का चार्ज देने के लिए बरेली आए थे। इस दौरान उन्होंने खुद को मालखाने में किसी मुकदमे से सम्बंधित जमा रिवाल्वर से गोली मार ली। यह भी पता चल रहा है कि चार्ज लेने को लेकर उनकी हेड मोहर्रिर से कहासुनी भी हुई थी। पुलिस को मौके से तीन-चार पन्ने का सुसाइड नोट भी मिला है।

एसएसपी मुनिराज ने यह भी बताया कि मौके से बरामद सुसाइड नोट में दरोगा सत्यवीर ने लिखा है कि उनकी तैनाती के दौरान वेदप्रकाश नामक होमगार्ड पर वह काफी विश्वास करते थे। उसी विश्वास के चलते दरोगा सत्यवीर ने होमगार्ड को मालखाने की चाभी दे रखी थी। उस चाभी के जरिये होमगार्ड ने मालखाने में जमा जुए और नोटबंदी के समय के पैसे और कीमती सामान गायब कर दिया। दरोगा सत्यवीर को होमगार्ड पर भरोसा था।

लेकिन होमगार्ड ने उन्हें धोखा दिया। उनके विश्वास को जीतकर वेदप्रकाश ने काफी समान चोरी कर लिया

होमगार्ड वेदप्रकाश बेहद शातिर किस्म का चोर है। वह वाहन चोरी के मामले जेल काट रहा है।

Monu Pandey

Monu Pandey

Our Contributor help bring you the latest article around you


  Similar Posts

Share it
Top