बन्दियों की सड़क पर मुलाकत कराना शुरू

2018-01-04 12:45:18.0

भ्रष्टाचार मुकत प्रदेश बनाने के वादे के साथ यूपी की सत्ता में बीजेपी के योगीराज में भ्रष्टाचार सिर चढ़कर बोलने लगा। हद तो यहां तक पहुंची कि अभी तक अपने रिश्तेदार बन्दियों से मिलने के लिए लोगों को जेलों पर लाईने लगानी पड़ती थी, लेकिन मेरा देश इतना आगे बढ़ा दिया गया है कि अब आप जहां चाहें मिलाई कर सकते है वह भी बिना किसी सुरक्षा रोकटोक के।
तस्वीरों में आप देख रहे हैं यह जेल की बन्दी वाहन है जिसमें बन्दियों को अदालत पेशी पर लाया जाता है। उ0प्र0 22 जी 0270 नम्बर की यह जेल वेन आज बरेली के रामपुर रोड पर मिनी बाईपास तिराहे पर शाम लगभग साढ़े चार बजे खड़ी मिली, गाड़ी के बाहर खड़े लोग गाड़ी में बैठे अपने सम्बधियों से मुलाकात बातचीत कर रहे थे आसपास कोई सुरक्षा नहीं थी, वाहन के दरवाजे में ताला भी नहीं था।
अब सवाल यह पैदा होता है कि योगीराज में शुरू की गई इस मिलाई सुविधा के दौरान कोई मिलने वाला किसी भी तरह का मादक पदार्थ या हथियार बन्दी को देदे और बन्दी उसे खाकर या हथियार से वार से आत्म हत्या करले तो इसका जिम्मेदार कौन होगा।

  Similar Posts

Share it
Top