Top

बड़ा सवाल - इतनी आतिशबाज़ी कहां से मिली

5 April 2020 7:49 PM GMT

आजका सबसे बड़ा मुददा, सबसे बड़ा सवाल

इतनी आतिशबाज़ी कहां से मिली,

बारह दिन से लॉकडाउन, आटा दाल चावल यहां तककि कफन भी आसानी से नही मिल रहा, तो इतनी आतिशबाज़ी पटाखें कहां से मिले,

क्या सरकार ने घर घर बंटवाये,

या फिर,

पटाखों की दुकाने खुलवाई गयीं,

ताली और थाली बजवाने के बाद पीएम मोदी ने आज पांच अप्रैल की रात नौ बजे से लाईटें बन्द करके दिये मोमबत्तियां जलाने का शुगूफा छोड़ा,

दिये, मोमबत्ती, मोबाईल फ्लैश जलाने की होड़ में ना सिर्फ अनपढ या कम पढ़ा लिखा तबका ही कूदा,

बल्कि डाक्टर इंजीनियर भी कूद पड़े,

और तो और पुलिस और सरकारी दफतरों मे भी दिये बत्ती जलाते देखे गये,

मोदी ने सिर्फ दिये मोमबत्ती या मोबाईल फ्लैश जलाने को कहा,

भक्त चार कदम आगे जा कूदे,

आप तस्वीरों मे देख सकते है आतिशबाज़ी का हाल,

देखा और सुना आपने,

किस तादाद मे पटाखे जलाये गये

इतनी आतिशबाज़ी को देखकर बड़ा सवाल पैदा होता हैं,

वो यह कि जिस लॉकडाउन के दौरान लोगों को आटा दाल नहीं मिल पा रहा यहां तक कि कफन भी आसानी से नहीं मिल रहा है उस लॉकडाउन के बीच इतनी आतिशबाज़ी कहां से मिली

  Similar Posts

Share it
Top