मौत बनकर मण्डरा रही है योगी के जानवरों की फौज

9 Jun 2019 9:45 PM GMT

योगी ने गायों की खरीद फरोख्त पर तो रोक लगादी लेकिन ना तो पालने वालों पर घर मे रखकर पाले की पाबन्दी लगाने की हिम्मत जुटाई, और ना ही गौशालाओं का कोई इन्तेजाम किया।

आज हम बात कर रहे हैं पीलीभीत जिले की, जिले में बीसों हजार गाय आवारा छोड़दी गयी है, जो इंसानों के सिरों पर मौत बनकर मंडरा रही हैं, एक तरफ जहां किसानों की फसले बरबाद हो रही है, तो वहीं दूसरी तरफ आम रास्तों पर सैकड़ों की तादाद में जमें रहने वाले गायों के झुण्ड राहगीरों पर मौत बनकर मंडरा रहे हैं।

आप जो तस्वीरें देख रहे हैं ये है पीलीभीत के बिलसंडा की, जहां सड़क पर आवारा जानवर तांडव मचा रहे हैं, रोज दो तीन हादसे होना आम बात है।

इन आवारा गायों को ना तो गौशाला भेजा जाता है ना ही इन जानवरों का इलाज ही किया जाता है

लेकिन इनपर खर्च के नामपर करोड़ों रूपये जरूर ठिकाने लगाये जा रहे है।

हम बात कर रहे हैं पीलीभीत के बिलसण्डा की, यहां के मुख्य चैराहे पर एक तो अतिक्रमण की वजह से जाम लगता है और दूसरा आवारा जानवरों की वजह से।

इन आवारा गायों को गौशाओं तक भिजवाने की जिम्मेदारी नगरपालिका की है लेकिन नगर पालिका तो एसी में सो रही है।

  Similar Posts

Share it
Top