मोदी की आयुष्मान आरोग्य योजना को आईना दिखाता सच

21 April 2019 7:04 PM GMT

भारतीय जनता पार्टी चीख चीख कर देश के कोनें कोनें मे आयुष्मान आरोग्य योजना का वास्ता देती नजर आ रही है, और इसे अपनी एक बड़ी उपलब्धि भी मान रही है।

आज हम आपको जो तस्वीरें दिखाने जा रहे हैं वो उत्तर प्रदेश के बरेली की हैं वो भी उस अस्पताल के मरीज की जो कि एक बड़े भक्त का है।

हम बात कर रहे हैं बरेली शहर के एक अस्पताल की इस अस्पताल का मालिक बीजेपी के एक बड़ा भक्त है जिन्हे माहेश्वरी के नाम से जाना जाता है।

मामला बरेली थाना कोतवाली की बिहारी पुर पुलिस चैकी के पास के निवासी शानू की रीड़ की हड्डी टूट गई थी जिसका इलाज बरेली के जिला अस्पताल मे चला। शानू की गरीबी के चलते जिला अस्पताल मे उसका इलाज नहीं कर सका क्योंकि योगी के सरकारी अस्पतालों मे स्वास्थ्य सेवाएं सिर्फ हवा हवाई है और गरीब के लिये तो सिर्फ धक्के ही है।

शानू ने अपना इलाज ड़ाक्टर महेश्वरी के अस्पताल मे कराना शुरू किया जिसके लिये शानू के पिता घर से ठेले पर डालकर ड़ाँक्टर महेश्वरी के अस्पताल तक ले जाते है और घर तक ले कर आते है जो आप इन तस्वीरों मे साफ देख सकते हैं। जहां एक तरफ डॉ महेश्वरी ने महेश्वरी ने जिले के सभी रोड़ो पर स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध कराने के लिये एम्बुलेंस लगा रखी है रोड़ पर कोई दुर्घटना होती है तो एम्बुलेंस घायलों को माहेश्वरी के अस्पताल ले लाती है तो इस गरीब शानू को ड़ाक्टर द्वारा एम्बुलेंस क्यू नहीं दी गई है।

क्या मोदी सरकार द्वारा चलायी जा रही, आयुष्मान आरोग्य योजना की सेवा ऐसे मरीजों के लिए नहीं है?

क्या खुद को समाज सेवी कहने वाले डॉ महेश्वरी की एंबुलेंस ऐसे मरीजों को सेवाओं नही देती है।

  Similar Posts

Share it
Top