स्कूलों में चल रही डग्गामार गाड़ियां

2018-04-29 14:44:02.0

स्कूलों में चल रही डग्गामार गाड़ियां

(रिपोर्ट संदीप शर्मा स्टेट ब्यूरो चीफ)

जिलाधिकारी की सख्ती के बावजूद भी नहीं सुधरे प्राइवेट स्कूल संचालक आज भी स्कूलों में चल रही है डग्गामार गाड़ियां जिनके ना तो कागज पूरे हैं और ना ही उनका फिटनेस अधिकारी चेक करने आते हैं और चले जाते हैं लेकिन असल में लीपापोती हो रही है ना तो कोई स्कूल संचालक में अभी तक गाड़ियों की मरम्मत करवाई है और ना ही गाड़ियों पर अपने स्कूल का नाम लिखा है फिटनेस की बात की जाए तो आधे से ज्यादा वाहन डग्गामार ही चल रहे हैं सवाल तो यह है कि आखिर यह कैसी कार्रवाई हो रही है रोज कई जाने जा रही है लेकिन स्कूल संचालक आज भी मनमानी कर रहे हैं इतना ही नहीं अधिकारी भी जो करते हैं उसे भी सब जानते हैं कि यह सब कागजी कार्रवाई के अलावा और कुछ नहीं है अगर किसी पर कार्रवाई होती है तो ले देकर मामले को रफा-दफा कर लेते हैं अगर बात की है शाजापुर जिले के विकासखंड बंडा की तो यहां का नजारा तो आप साफ देख सकते हैं ना तो किसी स्कूली वाहन पर स्कूल का नाम लिखा है और ना ही उसका फिटनेस है बच्चों का भविष्य आज भी खतरे में है जबकि यह निजी स्कूल मालिक बच्चों को शिक्षा देने के नाम पर मोटी रकम तो वसूल रहे हैं लेकिन सुविधा के नाम पर कुछ नहीं दे रहे कल का भविष्य कहे जाने वाले बच्चों की जिंदगी आज भी राम भरोसे हैं यह तो रोज की दिनचर्या है अधिकारी आते हैं रकम वसूलने के बाद खामोश होकर घर बैठ जाते हैं हादसे होते रहते हैं अधिकारी देखते रहते हैं लेकिन किसी भी अधिकारी को बच्चों के भविष्य की कोई फिक्र नहीं है अब देखते हैं अब इन डग्गामार स्कूलों पर प्रशासन के नुमाइंदे क्या कार्रवाई करते हैं

(शाहजहांपुर से संदीप शर्मा की रिपोर्ट)

  Similar Posts

Share it
Top