मोटर साइकिल समेततीन को पकड़ा

2017-01-19 13:00:56.0

मोटर साइकिल समेततीन को पकड़ा

तीन तमंचे, 15 कारतूस जिंदा व खोखा बरामद

उरई-जालौन (राहुल गुप्ता) पुलिस ने मुकदमा अपराध संख्या 0116/2017 धारा 392 आईपीसी के वांछित तीन अभियुक्तों को स्थानीय दयानंद वैदिक कालेज चैराहे के निकट तब पकड़ लेने की बात कर रही है जब पुलिस वहां चेकिंग कर रही थी पुलिसिया कहानी के मुताबिक अपाचे मोटर साइकिल यूपी 74 आर 9019 सवार लुटेरे अपने को अचानक फंसा पाकर पुलिस पर फायरिंग कर भाग निकलने की कोशिश करने लगे। जिन्हें मौजूद कांस्टेबिलों ने अदम्य साहस का परिचय देते हुये जान जोखिम में डालकर भागकर दबोच लेने में सफलता प्राप्त कर ली। पुलिस का कहना है कि इन बदमाशों के पास से लूट की रकम के 52 सौ रुपये, तीन अदद देशी तमंचे 315 बोर तथा 15 कारतूस जिंदा व खोखा बरामद कियेे गये हैं। अपर पुलिस अधीक्षक सुभाषचंद्र शाक्य ने प्रेस कांफ्रंेस के जरिये यह जानकारी दी एएसपी ने बताया कि पुलिस अधीक्षक स्तर से लुटेरों को गिरफ्तार करने वाली पुलिस टीम को पांच हजार रुपये का ईनाम दिये जाने की घोषणा की जाती हैं।
एएसपी सुभाषचंद्र शाक्य ने बताया कि बुधवार 18 जनवरी को एसआई अरविंद कुमार सिंह तथा रामकुमार सिंह, कांस्टेबिल उपेंद्र कुमार, शैलेंद्र चैहान, महेशचंद्र कोबरा प्रथम, कांस्टेबिल आकाश जैन, पंकज यादव कोबरा तृतीय के कांस्टेबिल आकाश बाबू तथा हरीओम उक्त मुकदमे की विवेचना तथा संदिग्धों की धरपकड़ के लिये डीवीसी चैराहे पर चेकिंग कर रहे थे तभी वहां से अपाचे मोटर साइकिल सवार तीन लुटेरे जिनके नाम अतुल 21 वर्ष पुख् सोमपाल निवासी नगला चित्ता अछल्दा जिला औरैया, लाखन 40 वर्ष पुत्र मातादीन निवासी रनियां डेरा थाना भोगनीपुर जिला कानपुर देहात तथा रूप सिंह 25 वर्ष पुत्र नत्थू निवासी सिकन्दरा नई बस्ती दातापुरी के पास कस्बा व थाना राठ जिला हमीरपुर आ गये और पुलिस बल को देखकर उन्होंने पुलिस पर फायरिंग करते हुये भागने लगे। इन्हंे तब सर्विलांस टीम के एसआई बृजेश यादव, सिपाही कुलभूषण यादव, शोएब आलम, जगदीशचंद्र तथा गौरव वाजपेयी ने जान जोखिम में डालकर भागकर दबोच लिया। बताया गया है कि पकड़े गये तीनों अभियुक्त लुटेरों ने पूंछतांछ में मुकदमा अपराध संख्या 0380/16 धारा 392, 506 आईपीसी थाना कुठौंद जिला जालौन अंतर्गत घटी लूट की घटना 12 दिसंबर 2016 जो बावली चैनिलपुर रोड पर घटी तथा जिसमें 10 हजार रुपये, मोबाइल फोन की लूट की गयी थी को अंजाम देना स्वीकार किया। अभियुक्तों के विरुद्ध थाना कोतवाली उरई मंे चार मुकदमे 118/2017 धारा 307 पुलिस मुठभेड़ आईपीसी, 118/2017 धारा 3/25 आम्र्स एक्ट, 119/2017 धारा 3/25 आम्र्स एक्ट, 120/2017 धारा 3/25 आम्र्स एक्ट पंजीकृत किये गये हैं।

  Similar Posts

Share it
Top