साप्ताहिक बन्दी में भी खुलता है बाजार

14 Feb 2017 5:42 AM GMT

साप्ताहिक बन्दी में भी खुलता है बाजार

उरई-जालौन (राहुल गुप्ता) प्रशासन द्वारा साप्ताहिक बंदी पर ध्यान न दिए जाने के कारण साप्ताहिक बंदी का असर धीरे, धीरे कम होने लगा है। इतना ही नहीं प्रशासन का ध्यान होने के चलते बाजार बंदी के दिन भी व्यापारिक प्रतिष्ठान खुलने लगे हैं।
नगर में साप्ताहिक बंदी का दिन मंगलवार है। मंगलवार को साप्ताहिक बंदी होने के बावजूद नगर में कई व्यापारिक प्रतिष्ठान खुले रहते हैं। लंबे समय से स्थानीय प्रशासन तथा श्रम विभाग द्वारा बाजार में अभियान नहीं चालाया गया है। जहां एक ओर स्थानीय प्रशासन चुनाव में व्यस्त है। तो वहीं, श्रम विभाग भी कुंभकर्णी नींद में सोया हुआ है। बाजार में एक दूसरे को देखकर दुकानें खुलने लगी हैं।घंटाघर , तालाब , अम्बेडकर चैराहा, बजरिया, मौनी मंदिर के पास समेत कई प्रमुख स्थानों पर बाजार में दुकानें खुली रहती हैं। साप्ताहिक बंदी के दिन भी दुकान खुलने से इन दुकानों पर काम करने वाले मजदूरों को भी अवकाश नहीं मिल पा रहा है। श्रम विभाग के नियमों को ताक पर रखकर खुल रहे व्यापारिक प्रतिष्ठानों के बारे में जब श्रम अधिकारी नीलम विश्वकर्मा से बात की गई तो उन्होंने कहा कि शीघ्र ही ऐसे प्रतिष्ठानों के खिलाफ कार्यवाही की जाएगी।

  Similar Posts

Share it
Top