झांकी में दिखेगा धमन्तरी का माडमसिल्ली बांध

2017-06-16 03:30:31.0

छत्तीसगढ़ के धमतरी का माडम सिल्ली बांध एशिया महाद्वीप का इकलौता सायफन सिस्टम बांध है, इस बांध का निर्माण 1923 इंगलैण्ड की रहने वाली एक महिला इंजीनियर मैडल सिल्ली ने की थी। जिसके चलते इस बांध का नाम माडमसिल्ली पडा, इस बांध की एक और खास बात है की इसे बनाने के लिये ईट सीमेंट और लोहे का उपयोग नही किया गया है। 94 साल की उम्र बीत जाने के बाद भी इस बांध की मजबूती मे कोई फर्क नही आया है, और आज भी इनके सभी गेट चालू हालत मे है। बारिश के मौसम मे बांध लबालब होते ही ऑटोमेटिक सायफन गेट से पानी निकलना शुरू हो जाता है। इस बांध का झंाकी प्रदर्शन आने वाले 26 जनवरी को दिल्ली में हो सकता है, जिसके लिये प्रदेश सरकार ने जिला प्रशासन से रिपोर्ट मांगी है। अगर राज्य स्तर पर इस बांध का चयन हो जाता है, तो ब्रिटिश काल में बने इस सायफन सिस्टम वाले बांध का प्रदर्शन दिल्ली में संभव है। देश का ये एकलौता बांध है जो सायफन सिस्टम होने के साथ चालू हालत में है। जिला प्रशासन की माने तो माडममसिल्ली बांध भारत ही नहीं, बल्कि पूरे एशिया महाद्वीप में अद्वितीय है, और इस बांध मे 24 सायफन सिस्टम लगा है इसके अंदर बेबी सायफन भी लगा है। बांध की कुल जलभराव क्षमता 5.839 टीएमसी है। रायपुर से बृजनरायन साहू की रिपोर्ट।

  Similar Posts

Share it
Top