अंधाधुंधी, कब तक चलेगी जब तक खादी रहेगी तब तक चलेगी

2018-04-28 08:10:39.0

अंधाधुंधी, कब तक चलेगी जब तक खादी रहेगी तब तक चलेगी

(संदीप शर्मा की खास रिपोर्ट)

उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर में प्रशासन के ढीले रवैए और भ्रष्टाचार में लिप्त होने के कारण इस कदर हादसे हो रहे हैं मानो जैसे तबाही ही मची हो कुछ लोग तो इन हादसों को जानबूझकर किए गए हादसे बता रहे हैं बताए भी क्यों ना उत्तर प्रदेश में जिस कदर भ्रष्टाचार हावी है इससे तो साफ जाहिर होता है कि इन हादसों की मुख्य वजह ही भ्रष्टाचार है चाहे रोड पर चल रहे डग्गामार वाहन हो या फिर स्कूल में जाने वाली स्कूली वैन जिनमें इस कदर बच्चे बैठा लिए जाते हैं मानो जैसे किसी ट्रक में भूसा लादा जाता है ना कोई इन वाहनों को चेक कर रहा है और ना ही परिवहन निगम की इन वाहनों पर कोई नजर जा रही है क्योंकि जो भी वाहन चल रहे हैं वह सब बड़े तबके से तालुकात रखने वाले लोगों के हैं जिनके ना तो कोई कागज पूरे हैं और ना ही इन्हें छूने की कोई हिम्मत करता है इसी का नतीजा अभी आपने कुशीनगर और शाहजहांपुर में हुए हादसे के रूप में देखा है जिस पर मुख्यमंत्री जांच बैठालने की बात कर रहे हैं लेकिन सोच का विषय यह है कि क्या वाकई में जांच बैठा ली जाएगी क्या वाक्य ही उन अधिकारियों पर कार्रवाई होगी जिन की सरपरस्ती में यह सब वाहन चल रहे हैं आपको जो हम तस्वीर दिखा रहे हैं वह शाहजहांपुर से पुवाया मार्ग की है नेशनल हाईवे पर इस कदर ओवरलोड डग्गामार वाहन चलते हैं कि मानो मौत को साथ लेकर चल रहे हो फिलहाल अभी तक शासन द्वारा जो कार्रवाई हुई है वह भी मीडिया के सामने दिखावे के रूप में ही हुई है असल में तो आज भी डग्गामार वाहन मौत लिए घूम रहे हैं सोच का विषय तो यह है कि इसी तरह से अधिकारी सरकार के आदेशों की खुलेआम धज्जियां उड़ाते रहेंगे या फिर कोई ठोस कार्रवाई भी करते हैं रही बात निजी स्कूलों की जिस पर यह कानून लागू किया गया था कि जो भी स्कूल का वाहन हो उस पर उस स्कूल का नाम लिखा होना चाहिए और वह स्कूल के नाम से पंजीकृत भी होना चाहिए लेकिन इस आदेश का अभी तक कोई भी पालन नहीं हुआ है आज भी आप देख सकते हैं कि कई ऐसे वाहन भी स्कूलों में लगे हैं जिन पर किसी भी स्कूल का नाम नहीं लिखा और ना ही उनका कभी मेंटेनेंस चेक किया गया है फिलहाल एक कहावत तो इन वाहनों पर सार्थक हो रही है की

अंधाधुंधी, कब तक चलेगी जब तक खादी रहेगी तब तक चलेगी

(शाहजहांपुर से गोल्डी कौर के साथ संदीप शर्मा की रिपोर्ट)

Sandeep Sharma

Sandeep Sharma

Our Contributor help bring you the latest article around you


  Similar Posts

Share it
Top