मंचों पर हो रहे विकास की एक और तस्वीर

13 July 2019 10:33 AM GMT

मंचों पर हो रहे विकास की एक और तस्वीर

(मनदीप सिंह)

पीलीभीत - बिलसंडा ब्लाक के गांव गौहनिया, मोदी योगी के जुमलों की पोल खोलने के लिए काफी है

आपको बता दें कि 30 साल से इस गांव का यही हाल है।किसी भी प्रधान ने कार्य नहीं कराया है। जबकि यहाँ की जनता आजतक अच्छे दिनों के इन्तेज़ार में है।

इस गली के निर्माण के लिए पैसा तो निकल गया है, पर नाली व खड़ंजा बिछाने का नाम नहीं लिया जा रहा है। जनता पानी भरी गलियों से निकलने के लिए मजबूर है। स्कूल के बच्चे,माताओं,बहनों बुजुर्गों आदि को निकलना एक मजबूरी है।

इन गलियों का इस तरह हाल है, ऐसा ही ग्राम पंचायत गौहनिया के गांव की गलियों का हाल है। जब हमारी टीम ने जाकर देखा तो जलमग्न गलियां साफ तौर पर दर्शा रही थी।कि देखिए साहब मैं हूं एक गंदी गली,जो मुझे सही करने कोई नहीं आता है। साहब मुझे भी ठीक करबाओ।मैं मजबूर हूं,ऐसे गंदे पानी को अपने सीने पर रखने के लिए।

वहीं गौहनिया रोड- मेन सड़क पर गंदा पानी भरा हुआ है।जहां स्कूली बच्चे व राहगीरों को निकलने के लिए बड़ी कठिनाई का सामना करना पड़ता है। जबकि गंदे पानी से बीमारियों का जन्म होता है। ऐसी बरसात में ऐसे गंदे पानी से निकलना बच्चों व अन्य लोगों के लिए खतरनाक साबित हो सकता है। इन गलियों का सुधार कैसे किया जाएगा। या फिर नहीं होगा।क्योंकि जब अधिकारियों से पूछा जाता है, तो अधिकारी कह देते हैं।कि अब तो बरसात आ गई है। कार्य कहां से कराया जाये।ऐसा तो इस गांव में 30 वर्षों से आने वाले अधिकारियों द्वारा सुना गया है।

  Similar Posts

Share it
Top