योगी के विकास के दावों की सच्चाई

1 March 2019 6:43 PM GMT

हमारे देश में महार्थियों की कमी नहीं, एक ढूंढो तो हज़ार मिलते हैं, यह कहावत साकार होती है यूपी में योगी की मशीनरी पर।

यूपी के लखीमपुर खीरी के कस्बा मैलानी की पीएचसी अपनी बदहवाली पर आंसू बहाने पर मजबूर नज़र आ रही है।

जब हमारे सहयोगी ने वहां जाकर जायजा लिया तब पाया कि आठ बेड वाला अस्पताल में अभी तक सफाई कर्मी की नियुक्ति नही की गयी, गन्दगी की फैक्ट्री में तबदील पीएचसी में रहने वाले कर्मचारियों और आने वाले मरीज बीमारियों का शिकार बनते जा रहे है।

यहाँ पर ना तो दवाईया पूरी है ना पीने के पानी की सुविधा है ना लोगों के बैठने की, पीएचसी पर तैनात के कर्मचारियों ने बताया कि यहां पर सफाई कर्मी की नियुक्ति न होने से निजी तौर पर सफाई कर्मी रखकर सफाई कराना पड़ती है कई बार अफसरान को अवगत कराने के बाबजूद यहाँ की सफाई का इन्तेज़ाम नहीं किया गया।

  Similar Posts

Share it
Top