दरोग़ा से तंग आकर घर बेचकर पलायन पर मजबूर

1 Feb 2019 9:45 PM GMT

योगी सरकार में जहां एक तरफ भाजपाईयों के हाथों पुलिस की पिटाई आम बात हो गई है, वहीं दूसरी तरफ गरीब और शरीफ आदमी पुलिसिया आतंक से परेशान नज़र आ रही है।

आज हम बात कर रहे है बरेली ज़िले की, जहां पुलिस पर जनता का भरोसा जमाने के लिए ज़िले के आला अफसरान की तमाम कोशिशों के बावजूद उनके मा तहत जनता में पुलिसिया आतंक फैलाने से बाज़ नही आ रहे,

जहां दो दिन पहले भोजीपुरा के दरोगा ने रिटायर्ड प्रिसिपल की पीट पीटकर हत्या करदी थी तो वहीं शेरगढ़ के दरोगा के आतंक से परेशान एक परिवार पलायन को मजबूर हो गया गया। ,

परिवार ने घर के बाहर घर बेचने का बोर्ड लगा दिया है, बोर्ड में लिखा है दरोगा प्रदीप कुमार के आतंक से भयभीत होकर मकान दुकान बिकाऊ है।

कैमरे पर अपनी आपबीती सुनाता ये है गुलाम गौस, जो एक दरोगा के आतंक से पीड़ित होने की बात कह रहा है,

पीड़ित का कहना है कि दरोगा उससे लगातार पैसे की मांग कर रहे है, पीड़ित के अनुसार वो दरोगा को पहले भी पैसे दे चुका पर अब उसके पास देने को कुछ नहीं है।

वहीं इस मामले में एसपीआरए का कहना है कि पीड़ित का अपने पड़ोसी से पैसों को लेकर कुछ लेंन-देंन का मामला था, जिसे दरोगा द्वारा निपटाया गया था, लेकिन अब जो मामला सामने आया है, उसकी जांच सीओ से कराई जा रही है, जांच के बाद ही कार्यवाही की जाएगी।

  Similar Posts

Share it
Top