प्रधानमंत्री आरोग्य योजना भी जुमला साबित हो रही है

30 May 2019 10:05 AM GMT

उत्तराखंड के ऊधमसिंह नगर के सिरौली किच्छा से एक मामला सामने आया है कि योजना का कार्ड होने पर भी अस्पताल ने एक लाख रुपये इलाज के नाम पर ले लिये है।

आपको बताते चलें कि सिरौली कलां किच्छा निवासी मो. राशीद ने ऊधमसिंह नगर के जिलाधिकारी व मुख्यचिकित्सालय अधिकारी को शिकायती पत्र भेजकर शिकायत की है। 24 मार्च को उनके पुत्र के पेट मे लोहे का एंगल घुस गया था जिसके इलाज के लियें रूद्रपुर स्थित द मेडिसिटी हेल्थ केयर अस्पताल मे भर्ती कराया था भर्ती के समय पुत्र का प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना का कार्ड अस्पताल मे जमा किया गया था फिर डक्टारों द्वारा एक लाख रुपये जमा करा लिये गये थे।

अपने पत्र मे राशीद ने माग की है कि प्रधानमंत्री योजना के अन्तर्गत योजना का लाभ यदि मुझे मिला है तो दवा आदि मे मुझे से एक लाख रुपये क्यों खर्च कराये गए इसके साथ ही पत्र पत्र मे न्याय दिलाये जाने की माग की है।

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री ने जो योजना जनता के लियें देश मे चलाई गई है अगर जनता तक अस्पतालो द्वारा इमानदारी से पहुंचा दी जाऐ तो जनता का भला हो जाऐ मगर अधिकतर निजी अस्पतालो जनता व प्रधानमंत्री के साथ छल कर निजी अस्पताल अपनी डबल कमाई कर लेतें है।

इस योजना के मामले मीडिया मे हर रोज प्रकाशित हो रहे हैं फिर भी शासन प्रशासन उचित कदम नहीं उठा रहा है।

  Similar Posts

Share it
Top