बदसे बदतर मैलानी पीएचसी का हाल

8 April 2019 2:34 PM GMT

यूपी के सीएम भ्रष्टाचार मुक्त सूबा बनाने की कितनी ही ढींगे क्यों ना मारते रहें,

लेकिन सच यह है कि योगी राज में यूपी करैप्शन की फैक्ट्री बन गया है,

आज हम बात कर रहे हैं लखीमपुर खीरी के महकमये सेहत यानी स्वास्थ विभाग की,

जिले की मैलानी सीएचसी कें फैले करेप्शन से हम आपको पहले भी रूबरू करा चुके हैं, लेकिन सीएमओ के कान तले जूं नहीं रेंगी,

सरकारी सेवाओं में सुधार होने के योगी के दावों की हकीकत देखनी हो तो मैलानी के जच्चा बच्चा केंद्र में आइये

मैलानी के स्वास्थ्य उप केन्द्र में प्रतिबंधित ऑक्सीटोसिन इंजेक्शन का गर्भवती महिलाओं पर किया जा रहा है धड़ल्ले से इस्तेमाल

गांवों से आये मरीजों को कमीशन खोरी के चलते लिखी जाती है महँगी दवाइयां

गैर जिलों के प्राईवेट अस्पतालों में भेजकर भी गर्भवती महिलाओं का किया जाता है आर्थिक शोषण

जच्चा बच्चा केंद्र बीते लगभग 15 वर्षों से लूटखसोट का अड्डा बना हुआ है।

आपको बताते चलें कि स्वास्थ्य विभाग के मैलानी स्वास्थ्य उपकेंद्र में तैनात ए एन एम मीना शर्मा लगभग 15 साल से तैनात है जिन पर आये दिन केन्द्र पर मरीजो से उगाही के आरोप लगते रहे है ।

स्वास्थ्य केंद्र पर आने वाले मरीजो को कुछ मैडिकल स्टोरों से महंगी दवा खरीदने पर मजबूर किया जाता है

  Similar Posts

Share it
Top