Top

ख़तरों से घिरा सफ़र

13 Feb 2020 1:15 PM GMT

प्रशासनिक लापर्वाही का खमियाज़ा भुगतना पड़ता है राहगीरों को,

हफ्ते में दो चार हादसे होना लाज़मी हो गया है,

ज़्यादातर हादसों में राहगीरों को जानें गवानी पड़ती हैं

हम बात कर रहे हैं बरेली दिल्ली रोड पर बरेली ज़ीरो प्वाइंट की,

जहां दो दिन पहले ही दो ज़िन्दगियां अफसरान की लापर्वाही की भेंट चढ़ गई,

ज़ीरो प्वाइंट यानी दिल्ली लखनऊ हाईवे से बरेली में प्रवेश का मार्ग, यहां तिराहा है, दिल्ली लखनऊ हाईवे पर गाड़ियों की रफ्तार भी काफी रहती है, इधर बरेली में आने जाने वालो को भी यहीं से टर्न लेना होता है

इस तिराहे पर ना तो इलैक्ट्रानिक सिगनल ही हैं ना ही स्पीड ब्रेकर,

यहां तक कि चौकी थानों पर उगाही के लिए इस्तेमाल किये जाने वाले अस्थाई बेरियर ही लगाये गये हैं,

इसी लिए तिराहे पर पहुंचकर भी वाहनों की रफ्तार कम नही होती और नतीजे में दो चार जाने भेंट चढ़ जाती हैं

  Similar Posts

Share it
Top