किसी भी वाहन से बरामद नहीं हुयी नकदी

17 Jan 2017 10:30 AM GMT

किसी भी वाहन से बरामद नहीं हुयी नकदी

उरई-जालौन (राहुल गुप्ता) विधानसभा चुनाव में धन का उपयोग किसी भी कीमत पर न होने पाये इस मंशा के साथ पुलिस महकमा पूरी सक्रियता से जुटा हुआ है। पुलिस अधिकारियों के निर्देश मिलते ही अचानक वाहनों की चेकिंग का अभियान शुरू कर दिया जाता है। हालांकि आज जिला मुख्यालय में लगभग चार घंटे तक चले वाहन चेकिंग अभियान में किसी भी गाड़ी से न तो नकदी बरामद हुयी और न ही कोई संदिग्ध वस्तु। लेकिन गंतव्य स्थान को जाने वाले राहगीर अवश्य परेशान रहे। यह और बात है कि खददरधारी चुनाव आयोग और कानून के भी गुरू हैं सभी जानते हैं कि चुनावों के दौरान कारों को चैकिंग से गुजरना पड़ता है, इसलिए गुजरे कई साल से वर्दी का सहारा लेकर काम किया जा रहा है यानी जिस गाड़ी में वर्दी मौजूद हो उसे चैकिंग की कसौटी से नहीं गुजरना पड़ता, मतलब वर्दीधारी पर कानून लागू नहीं होता। इसलिए गुजरे चुनावों में भी देखा गया था कि नगदी या अवैध सामग्री ले जाने के लिए नेता किसी वर्दीधारी को वाहन में साथ रखते थे।
सोमवार को जिला मुख्यालय पर पुलिस महकमा सक्रिय नजर आया और देखते ही देखते जिला परिषद तिराहा, कोंच बस स्टैंड, राठ रोड, अंबदेकर तिराहा, मच्छर तिराहे सहित नगर के अन्य स्थानों पर एक साथ चारपहिया व दोपहिया वाहनों की चेकिंग का अभियान शुरू हो गया। चारपहिया वाहनों की विशेष रूप से इसलिये चेकिंग की गयी क्योंकि उनमें भारी मात्रा में नकदी एक स्थान से दूसरे स्थान पर पहुंचायी जा सकती है तो वहीं कोई भी व्यक्ति पुलिस को चकमा न देकर लाखों की नकदी एक स्थान से दूसरे स्थान पर न ले जा सके तो उनकी डिग्गियों की भी तालाशी ली गयी। लगभग चार घंटे चले अभियान में पुलिस चकरघिन्नी बनकर एक के बाद एक वाहन की चेकिंग करते रहे लेकिन उन्हें किसी भी वाहन में नकदी के नाम पर एक भी धेला नहीं मिला। पुलिस के औचक लगाये गये वाहन चेकिंग अभियान से राहगीरों को जरूर कुछ देर के लिये परेशान होना पड़ा और जैसे ही उनके वाहन की चेकिंग पूरी हो जाती थी तो ऐसे वाहन चालक को गंतव्य के लिये प्रस्थान करने की हरी झंडी दे दी जाती थी।

  Similar Posts

Share it
Top