घोटाले ही घोटाले

2018-03-19 01:00:08.0

शाहजहांपुर जिले का विकासखंड बंडा वैसे तो घोटालों के लिए मशहूर है यहां प्रधान हो या सेक्रेटरी जनता के पैसे को भण्डारे का माल समझकर खा रहा है, इन्हे किसी तरह का डर खौफ नही है, और डर हो भी क्यों, वे जितने घोटाले करते है वह अधिकारियों के सरक्षण में ही तो करते हैं बंडा और खुटार ब्लॉक में कई बार घोटाले उजागर हुए लेकिन किसी भी मामले मे कोई कार्रवाई नहीं हुई, यहा तो खाओ खिलाओ नीति के चलते यह सब आम बात हो गई है।
ऑपरेशन समस्या के तहत आज एवीएन की टीम पहुंच गई बंडा ब्लाक के गांव पिपरिया घासी में यहां पर ना तो शौचालय ही बने है और ना ही गरीब लोगों के आवास अगर कुछ लोगों के शौचालय बन भी रहे है तो उनमें भी घटिया सामग्री का प्रयोग किया जा रहा है, शौचालय में प्रयोग किए जाने वाली ईंट भी पीली लगाई जा रही है ग्रामीणों का कहना है कि ओडीएफ के तहत बन रहे शौचालय में लाखों रुपए का घोटाला किया जा रहा है जिनका शौचालय बनता है तो उसे गड्ढा भी खुद खोदना पड़ता है और बालू भी खुद ही लाकर देनी पड़ती है यह कारनामे योगी सरकार विकास के दावों की कलई खोलने के लिए काफी है, लोगों की बातें सुनने के बाद जब हमारे टीम गांव के अंदर पहुंची तो देखा कि मुख्य रास्ते पर कीचड़ ही कीचड़ दिखाई दे रहा था जो स्वच्छ भारत अभियान का भी मजाक उड़ा रहा था दिखाते हैं आपको यह पूरी खबर क्या कहना है पिपरिया घासी में रहने वाले लोगों का जो कि आज खाओ खिलाओनीति की भेंट चढ़े हुए हैं जिनकी सुनने वाला आज कोई नहीं है।

REPORTAR GOLDY KAUR

REPORTAR GOLDY KAUR

Our Contributor help bring you the latest article around you


  Similar Posts

Share it
Top