Trending News

शानो शौकत से मनाया यौमे "अली"

तमाम मोमीनीन दुनियां को यौमे मौलाए कायनाक - ला फ़ताह - शेरे यज़दां - शाहे मरदां - वारिसे रिसालत मुआब - वालिदे शाहे शहीदां - हैदरे कर्रार - बू तुराब अली मुर्तज़ा - शहज़ादाए हज़रते अबु तालिब मुबारक हो। 13 रजब यानी यौमे हैदरे कर्रार के मुबारक मौक़े पर हिन्दोस्तान की अज़ीम और बरेली की सबसे पुरानी और आला ख़ानकाह ख़ानकाहे आलिया नियाज़िया में हमेशा की तरह आज पूरी शानो शौकत और अक़ीदत से मनाया गया। दूसरी तरफ सैलानी के ख्वाजा चौक में डॉ राशिद नियाज़ी की क्लीनिक से मौला ए कायनात अमीरुल मोमिनीन अली शेरे खुदा के यौमे विलादत के मुबारक मौक़े पर मुजाहिद हुसैन क़ादरी शहर सदर तंज़ीम उलमाए इस्लाम और सय्यद शाज़ेब अहमद की सरपरस्ती मे जुलूस का आगाज़ हुआ। जग़ह जग़ह जुलूस का इस्तेकबाल हुआ। सय्यद क़ासिम अली और उनके साथियों ने लंगर का भी इंतेज़ाम किया। जुलूस शाहदाना वली साहब की दरगाह पुहंचा। वहाँ भी जुलूस का इस्तक़बाल किया। अली वाले इतने मस्त दिखाई दिए के या अली या अली की सदा सब तरफ गूंज उठी।