Breaking

मां इतनी निर्दयी कैसे हो गई ? नवजात को झाड़ियों में फेंका

News-image

बैतूल: मध्य प्रदेश के बैतूल में बुधवार को झाड़ियों में एक दिन का नवजात मिला है, जिसे बैतूल जिला अस्पताल एसएनसीयू में भर्ती कराया गया है. इस घटना से एक निर्दयी मां की निष्ठुरता की हद भी देखने को मिली. कड़ाके की ठंड में वह अपने महज एक दिन के बच्चे को सड़क किनारे झाड़ियों में रोता-बिलखता छोड़ गई. मामले का पता लगने पर हर कोई हैरान है कि कोई मां अतनी निर्दयी कैसे हो सकती है एसएनसीयू में भर्ती बच्चा मामला बैतूल के शाहपुर ब्लॉक के ग्राम कोठा क्षेत्र का है. इसकी जानकारी मिलने पर स्वास्थ्य विभाग ने बच्चे को पूरी सावधानी और सुरक्षा के साथ शाहपुर अस्पताल लाकर उसका परीक्षण किया और फिर शाम को जिला अस्पताल बैतूल स्थित एसएनसीयू में भर्ती करा दिया है. शाहपुर बीएमओ डॉ. गजेंद्र यादव का कहना है कि सूचना मिली थी कि कोठा गांव में रोड के किनारे झाड़ियों में एक नवजात शिशु पड़ा है. सूचना मिलते ही उन्होंने सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र से एक टीम को मौके पर रवाना किया. यह टीम पूरी सावधानी के साथ नवजात शिशु को लेकर शाहपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लाई और मामले की सूचना शाहपुर पुलिस को भी दी गई. ठंड के कारण बच्चा ज्यादा बीमार केंद्र में प्राथमिक जांच कर नवजात शिशु को जिला अस्पताल के एसएनसीयू भिजवा दिया गया है. यहां बच्चे को कुछ दिन भर्ती रख कर उसके स्वास्थ्य की निगरानी की जाएगी. इसके बाद आगामी वैधानिक कार्रवाई की जाएगी. इधर क्षेत्र में बच्चे को इस तरह छोड़ दिए जाने को लेकर तरह-तरह की चर्चाएं चल रही हैं. पुलिस ने भी मामले की जांच शुरू कर दी है. मामले पर नीलेश धोटे का कहना है कि शाहपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र से बच्चे को भेजा है. ठंड के कारण बच्चे को दिक्कत हो रही थी. लगातार उसका इलाज चल रहा है.