UP ELECTION 2022

लैपटाप राशन बिजली फ्री नहीं चाहिये सिर्फ़ रोज़गार चाहिये

जो गलती हमारे बड़े करते 75 साल से करते रहे वो अब युवा वर्क किसी भी क़ीमत पर नहीं दोहरायेगा। सबने हमारे पूर्वजों को जमकर ठगा लेकिन अब हम झांसे में नहीं आने वाले। चाहे लैपटाप का लालच दो या मोबाईल दो। हमे नहीं चाहिये। हमे मंत्रालय से प्रधान तक। कलैक्टर से चपरासी तक। सब जगह भागी दारी चाहिये। जी हां ये जोश है बिथरी विधान सभा के गांव मोहनपुर गौटिया के युवाओं का। अगर बात करें उत्तर प्रदेश को नम्बर वन स्मार्ट प्रदेश बनाने के लिए मोदी योगी और भरतौल ने कितनी मेहनत की। ये तस्वीरों में देख सकते हैं। मंचों और पालतू मीडिया में हुए अपार विकास को तलाशते हुए हम पहुंच गये बरेली ज़िले की बिथरी विधान सफा के गांव मोहनपुर गौटिया। यहां विकास की जो अभूतपूर्व तस्वीर सामने आई वो हम आपको दिखा रहे हैं। लोगों का कहना है कि यहां प्रधान से लेकर सांसद तक कोई नहीं पलटकर आता। रास्ते कीचड़ से लबालब तो बिजली के तार ज़मीन को छूते दिखे। पूरे गांव में एक भी पोल खड़ा नही दिखा। पककी गलियां तो छोडिंये यहां तो खड़न्जा तक नहीं है। लावारिस बनाकर रखा जा रहा है गांव। यहां हरकत सिर्फ़ बीजेपी की ही नहीं बल्कि कांग्रेस - समाजवादी पार्टी - बीएसपी - सब ने ही इस गांव को सिर्फ़ और सिर्फ़ ठगा ही है। खास बात ये दिखी कि यहां का युवा वर्ग कांग्रेस और समाजवादी पार्टी का नाम सुनते ही भड़क जाता है। किसी को भी कांग्रेस और समाजवादी पार्टी का नाम सुनना तक पसन्द नहीं कर रहा।